Current Date:08 Dec 2022





नहर में नहाते समय चार छात्राओं की डूबने मौत...गांव में मचा चीख पुकार...मुख्यमंत्री ने जताया दु:ख

नहर में नहाते समय चार बालिकाओं की डूबने से मौत हो गई।

नहर में नहाते समय चार छात्राओं की डूबने मौत...गांव में मचा चीख पुकार...मुख्यमंत्री ने जताया दु:ख


एमपी के खंडवा जिले के नर्मदानगर थाना क्षेत्र अंतर्गत बुधवार सुबह ओंकारेश्वर बांध की नहर में नहाते समय चार बालिकाओं की डूबने से मौत हो गई। यह बालिकाएं ग्राम कोठी में स्थित साध्वी ऋतंभरा के आश्रम में रहने वाली थीं। पुलिस ने गोताखोरों की मदद से चारों के शव बरामद कर लिए हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस हादसे पर दुख व्यक्त किया है। 
नर्मदानगर थाना पुलिस के अनुसार ओंकारेश्वर के निकट ग्राम कोठी में साध्वी ऋतंभरा का पिताम्बरेश्वर आश्रम है। आश्रम के निकट से ओंकारेश्वर बांध की नहर बहती है। नहर किनारे घाट बना हुआ है, जहां बुधवार सुबह करीब साढ़े छह बजे आठ - दस बालिकाएं नहाने गई थीं। बालिकाएं घाट पर रैलिंग से बंधी सांकल पकड़कर नहा रही थीं। इसी दौरान एक बालिका के हाथ से सांकल छूट गई और वह नहर के तेज बहाव में बहने लगी। उसे नहर में डूबता देखकर दूसरी बालिका नहर में कूदी पड़ी तो वह भी डूबने लगी। इनकी मदद के लिए अन्य चार बालिकाएं भी नहर में कूद गई और गहरे पानी में डूब गईं।
घटना की जानकारी मिलते ही ग्रामीण और आश्रम के कर्मचारी मौके पर पहुंचे और उनकी तलाश में जुट गए। इसके बाद मान्धाता और मोरटक्का चौकी से पुलिस अधिकारी भी गोताखोर के साथ मौके पर पहुंच गए। ग्रामीण और गोताखोर की मदद से एक घंटे के रेस्क्यू आपरेशन में दो बालिकाओं की सही सलामत नहर से निकाल गया, लेकिन शेष चार बालिकाओं की नहीं बचाया जा सका। नहर में डूबने से चारों की मौत हो गई। पुलिस ने चारों बालिकाओं के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
 चार बालिकाओं की डूबने से मौत - 
नर्मदानगर एसडीओपी राकेश पेन्द्रों ने बताया कि बुधवार सुबह ओंकारेश्वर बांध की नहर में नहाते समय चार बालिकाओं की डूबने से मौत हुई है। मृतक बालिकाओं की पहचान 12 वर्षीय वैशाली पुत्र नवल निवासी ग्राम बड़िया, भीकनगांव, 11 वर्षीय कंचन (अंजना) पुत्री रमेश निवासी ग्राम सोमवाडा, भीकनगांव, 12 वर्षीय प्रतीक्षा पुत्री छनिया निवासी ग्राम दाभड़, सनावद और 10 वर्षीय दिव्यांशी पुत्री चेतक निवासी ग्राम इंद्रपुर रहतिया, बड़वानी के रूप में हुई है। उन्होंने बताया कि चारों के शवों को ओंकारेश्वर अस्पताल भेजा गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
मुख्यमंत्री ने जताय दुःख - 
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट के माध्यम से इस हादसे पर दुख व्यक्त करते हुए कहा है कि खंडवा में ओंकारेश्वर के पास नहर में बच्चियों के डूबने की खबर पीड़ादायक है। मन व्यथित है, हृदय द्रवित है। दिवंगत आत्माओं को ईश्वर श्रीचरणों में स्थान दे। शोकाकुल परिजनों के प्रति गहरी संवेदनाएं हैं।