Current Date:28 Jan 2023





बड़ी खबर: पुल हादसे में 91 लोगों की मौत...पांच दिन पहले ही दोबारा हुई थी शुरुआत...जानें कैसे हो गया इतना बड़ा हादसा

बड़ी खबर

बड़ी खबर: पुल हादसे में 91 लोगों की मौत...पांच दिन पहले ही दोबारा हुई थी शुरुआत...जानें कैसे हो गया इतना बड़ा हादसा


गुजरात के मोरबी में मच्छु नदी पर बना केबल पुल रविवार शाम को टूट गया, जिससे उस पर खड़े कई लोग नदी में गिर गए। इस हादसे में अब तक 91 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। यह आंकड़ा अभी और बढ़ सकता है। हादसे के वक्त पुल पर करीब 400-500 लोग मौजूद बताए जा रहे हैं। पुलिस और प्रशासन की टीमें रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी हैं।
यह पुल अंग्रेजों के जमाने का था और करीब 100 साल से भी अधिक पुराना था और कुछ दिन पहले ही इसकी मरम्मत कराई गई थी। मरम्मत के बाद 5 दिन पहले ही इसे आम जनता के लिए फिर से खोला गया था। यह पुल मोरबी का एक प्रमुख आकर्षण का केंद्र था। काफी संख्या में पर्यटक यहां आते थे। रविवार को छुट्टी का दिन होने के चलते आज यहां काफी भीड़भाड़ थी।
230 मीटर लंबा ऐतिहासिक पुल 19वीं सदी में ब्रिटिश शासन के दौरान बनाया गया था। यह छह महीने के लिए नवीनीकरण के लिए बंद कर दिया गया था। मरम्मत का काम दिवाली से कुछ दिन पहले ही पूरा किया गया था और पिछले सप्ताह ही जनता के लिए फिर से खोल दिया गया था।
मुख्यमंत्री ने किया मुआवजे का ऐलान
गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने हादसे पर दुख जताते हुए मृतकों के परिवार के लिए 4-4 लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया है। वहीं प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से भी मृतकों के लिए 2-2 लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये देने की घोषणा की गई है।
अधिकारियों ने कहा कि हाल ही में मरम्मत के बाद जनता के लिए फिर से खोला गया पुल टूट गया क्योंकि यह उस पर खड़े लोगों का भार सहन नहीं कर सका। स्थानीय विधायक एवं राज्य मंत्री बृजेश मेरजा ने कहा कि पुल टूटने से कई लोग नदी में गिर गए। बचाव अभियान जारी है। ऐसी जानकारी है कि इसमें कई लोग घायल हुए हैं। उन्हें अस्पताल ले जाया जा रहा है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, पुल जिस समय टूटा उस समय उस पर कई महिलाएं और बच्चे भी थे।
घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस और प्रशासन की टीम मौके पर पहुंच गईं और रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें भी जल्द मौके पर पहुंच रही हैं। बताया जा रहा है कि हादसे के वक्त सैकड़ों की तादाद में लोग पुल पर मौजूद थे।
रेस्क्यू टीमों ने कई लोगों को नदी से निकालकर अस्पताल भेज दिया है। वहीं अन्य लोगों की तलाश भी जारी है। सभी लोगों को जल्द से जल्द नदी से बाहर निकालने की कोशिशें जारी हैं। रविवार को छुट्टी का दिन होने के चलते आज यहां काफी भीड़भाड़ थी।