झारखंड में विहिप का बैनर लगाकर दुकानदार को फल बेचना पड़ा महंगा...इन धाराओं के तहत् हुआ मामला दर्ज... भाजपा ने लगाया ये आरोप

hindustan path : 26-04-20 04:05:04

जमशेदपुर (हिंदुस्तान पथ)। कदमा थाना क्षेत्र में छह दुकानदार ठेले पर फल बेच रहे थे, जिस पर विश्व हिंदू परिषद द्वारा अनुमोदित दुकान का बैनर लगा था। इसे तस्वीर सहित किसी ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को भी ट्वीट कर दिया। मुख्यमंत्री के आदेश पर शनिवार को कदमा थाने की पुलिस ने ना केवल ठेलों से वह बैनर हटाया, बल्कि छह दुकानदारों सहित आठ लोगों के खिलाफ शांतिभंग करने का मामला भी दर्ज किया।
विहिप के बैनर लगे ठेलों की तस्वीर भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। वहीं पुलिसिया कार्रवाई के खिलाफ विश्व हिंदू परिषद व पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास समेत तमाम भाजपाई आक्रोश व्यक्त कर रहे हैं। दास ने तो मामला वापस नहीं लेने पर आंदोलन तक की चेतावनी दी है।

छह ठेलेवालों सहित आठ लोगों पर कार्रवाई

ठेलों से बैनर हटाने के साथ ही इस मामले में छह ठेला संचालकों सहित कुल आठ लोगों के खिलाफ कदमा थाना में शांति भंग की आशंका के तहत कार्रवाई की गई है। एसएसपी अनूप बिरथरे ने कहा वर्तमान माहौल में ऐसा कोई काम नहीं होना चाहिए, जिससे किसी को ठेस पहुंचे। बैनर हटा दिए गए हैं। किसी भी संप्रदाय की भावना को ठेस पहुंचाने का काम होगा तो अवश्य कार्रवाई होगी।

इधर, प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने फल विक्रेताओं पर कार्रवाई निंदनीय है। तुष्टिकरण की राजनीति के चलते अपनी आजीविका चला रहे छोटे-छोटे व्यापारियों को तंग करना राज्य सरकार बंद करे। केस को वापस लिया जाए, नहीं तो अन्याय के खिलाफ भाजपा आंदोलन करेगी।
महानगर भाजपा के प्रवक्ता अंकित आनंद ने कहा कि बैनर लगाने से धार्मिक उन्माद बिगडऩे जैसी बात कहां से आ गई। दरअसल विकृति और उन्माद शिकायतकर्ता के मन और विचारों में है।
कोई अपने आराध्य और ईष्ट देव की तस्वीर लगाए और उस मान्यता के अनुसार दुकान का नामकरण करे। इसमें कोई माहौल बिगाडऩे वाली बात नही है।भाजपा नेता देवेंद्र सिंह ने कहा भारत में हर व्यक्ति को यह अधिकार है कि अपने ईष्ट देव की तस्वीर लगा सकता है। हर धर्म के लोग जहां काम करते हैं। अपने धर्म के प्रति समर्पित रहते हैं, लेकिन झारखंड सरकार हर मामले को सांप्रदायिक दृष्टिकोण से देखती है, जो गलत है।

बैनर हटाने पर विहिप का विरोध-प्रदर्शन

फल के ठेले से विहिप का बैनर हटाने की जानकारी मिलने पर संगठन के कार्यकर्ता मौके पर पहुंचे। बैनर हटाने के दौरान कदमा थाना प्रभारी रंजीत कुमार के सामने विरोध किया, जिसको लेकर नोकझोक हो गई। विहिप के जमशेदपुर महानगर मंत्री जनार्दन पांडेय, रवि कुमार, अमित यादव, रौशन कुमार, कदमा मंडल अध्यक्ष दीपल विश्वास अपने समर्थकों के साथ पहुंच गए। विरोध-प्रदर्शन किया। माहौल बिगड़ता देख थाना प्रभारी ने केवल बैनर हटाने की बात कही। भगवान की तस्वीर हटाने के आरोप को गलत कहा। इसके बाद वे आनन-फानन में कार्रवाई करते हुए चलते बने।

वेब डेस्क... झारखंड




add