1 से 15 जुलाई के बीच होगी 10वीं और 12वीं CBSE बोर्ड की परीक्षा

hindustan path : 08-05-20 05:34:05

नई दिल्ली। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजूकेशन कक्षा 12वीं के बचे हुए विषयों की परीक्षा कराने की योजना बना रहा है। माना जा रहा है कि सीबीएसई जुलाई माह के पहले हफ्ते में यह परीक्षा करा सकता है, इस बाबत केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल जल्द ही कर सकते हैं। सरकार के सूत्रों के अनुसार सीबीएसई बोर्ड ने फैसला लिया है कि वह कक्षा 12वीं के बचे हुए विषय की परीक्षा जेईई मेन की परीक्षा से पहले करा लेना चाहता है। एनआईटी की परीक्षा जुलाई 18 से 23 के बीच हो सकता है। सीबीएसई को कहा गया है कि वह परीक्षा को इससे पहले संपन्न करा ले।

इससे पहले सीबीएसई ने 1 अप्रैल को ऐलान किया था कि वह 90 में से 29 विषयों की परीक्षा कराएगा, जोकि लॉकडाउन की वजह से नहीं हो सकी थी। दिल्ली दंगों की वजह से कक्षा 10 के जिन विषयों की परीक्षा नहीं हो सकी थी, उसे भी कराया जाएगा। कक्षा 12 वीं के बिजनेस स्टडीज, भूगोल, हिंदी मुख्य विषय, हिंदी वैकल्पिक, गृह विज्ञान, समाजशास्त्र, कंप्यूटर साइंस ओल्ड, कंप्यूटर साइंस न्यू, इंफोर्मेंशन प्रैक्टिस ओल्ड, इंफोर्मेशन प्रैक्टिस न्यू, इंफोर्मेशन टेक्नोलॉजी, बायो टेक्नोलॉजी विषयों की परीक्षा कराएगा।
इसके साथ ही सीबीएसई इस बात पर भी काम कर रही है कि परीक्षा के बाद कॉपियों की जल्द से जल्द जांच की जाए, जिसे मार्च माह में रोक दिया गया था। इसके लिए सीबीएसई ने नया तरीका निकाला है, दरअसल इन तमाम उत्तर पुस्तिकाओं को शिक्षकों के घर पहुंचाया जाएगा ताकि वह इसे जांच सके। जानकारी के अनुसार इन सभी 29 विषयों की परीक्षा संपन्न होने के बाद सीबीएसई परीक्षा का रिजल्ट घोषित करेगा। परीक्षा के परिणाम अगस्त माह के अंत तक घोषित किए जा सकते हैं।



add