नेपाली सेना की तरफ से अंधाधुंध फायरिग, खेत में काम कर रहे एक भारतीय की मौत, दो जख्मी

hindustan path : 12-06-20 05:06:06

बिहार: भारत-नेपाल बॉर्डर के पास सीतामढ़ी में हुई गोलीबारी में एक व्यक्ति की मौत और दो लोग घायल हुए, बिहार क्षेत्र के सशस्त्र सीमा बल के आईजी ने पुष्टि की। स्थानीय लोगों का कहना है कि ये घटना नेपाल की तरफ से हुई गोलीबारी के कारण हुआ। इस समय नेपाल और भारत के रिश्‍ते अच्‍छे नहीं है। लेकिन ऐसा पहली बार हुआ है जब बिहार के सीतामढ़ी जिले में भारत-नेपाल सीमा के पास अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर अचानक नेपाली सेना द्वारा फायरिंग की गई। इस फायरिंग की वजह से प्रशासनिक अधिकारी समेत पूरा अमला सकते में आ गया है।


घटना सोनबरसा थाना क्षेत्र के पिपरा परसाइन पंचायत अंतर्गत आने वाले लालबन्दी स्थित जानकी नगर बॉडर की है, जहां खेत में काम करने गए मजदूरों पर पर अचानक नेपाल के शस्त्र पुलिस ने अंधाधुंध गोलियां बरसा दी है। घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गई है। वहीं दो लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए है। जख्मियों को इलाज के लिए शहर के लाया जा रहा है।

स्थानीय लोगों ने बताया कि एक भारतीय नागरिक को नेपाली सेना ने अपने कब्जे में ले रखा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, नेपाली सेना के गोलीबारी में जानकी नगर टोले लालबन्दी निवासी नागेश्वर राय के 25 वर्षीय पुत्र डिकेश कुमार की मौत हो गई है। जबकि बिनोद राम के पुत्र उमेश राम के दाहिना बांह में गोली लगी है। जबकि सहोरबा निवासी बिंदेश्वर ठाकुर के पुत्र उदय ठाकुर को दाएं जांघ में गोली लगी है। दोनों जख्मियों को इलाज के लिए सीतामढ़ी रेफर किया गया।

वहीं नेपाली पुलिस ने गांव के बशिस्ट राय के पुत्र लगन राय को अपने कब्जे में रखा है। अब उन्हें गोली लगी है अथवा नहीं इसकी जानकारी नहीं। फिलहाल बॉर्डर पर भारतीय एसएसबी और स्थानीय पुलिस लालबन्दी दोनों डटी हुई है। तो वही नारायणपुर बॉर्डर पर नेपाली सेना ने अपना डेरा डाले हुए है।



add