कमर्शियल माइनिंग के विरोध में इंटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष पहुंचे कोयलांचल भटगांव श्रमिको से की चर्चा,

hindustan path : 29-06-20 08:35:06

स्थनीय रेस्ट हाउस में दो जुलाई से होने वाले तीन दिवसीय हड़ताल को लेकर किए पत्रकारवार्ता

सूरजपुर जिले के एसईसीएल भटगांव क्षेत्र के आशियाना गेस्ट हाउस में इंटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष की उपस्थिति में जुलाई से होने वाली तीन दिवसीय हड़ताल को लेकर क्षेत्रीय इंटक के पदाधिकारियों के साथ बैठक व प्रेस कॉन्फ्रेंस संपन्न हुई, इंटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष के०एन त्रिपाठी व राष्ट्रीय महामंत्री रामेश्वर सिंह ने इंटक के स्थानीय पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की जिसमें भटगांव क्षेत्र के खदानों में कार्यरत कामगारों के विषय में जानकारी साझा की गई , केंद्र सरकार की श्रमिक कानून में परिवर्तन तथा कोल इंडिया लिमिटिड के विभिन्न कोयला खादानो को निजी हाथों में जाने से रोकने हेतु 3 तीन दिवसीय हड़ताल की घोषणा की गई वही राष्ट्रीय अध्यक्ष के एन त्रिपाठी ने केंद्र की श्रमिक विरोधी नीतियों को लेकर आरोप लगाते हुए कहा कि केंद्र में बैठी सरकार श्रम कानून में परिवर्तन कर मजदूर के प्रति अपनी महत्वपूर्ण दायित्वों जैसे सुरक्षा ,स्वास्थ्य एवं कल्याण को सुन्न कर रही है तो वही फैक्ट्रीज एक्ट में परिवर्तन कर वो राज्य सरकार के हस्तक्षेप को प्रतिबंधित करने जा रही है जिससे उद्योगपति अपना काम मनमानी ढंग से कर सके । साथ ही इन्होंने कहा कि इंटक यूनियन केंद्र सरकार की इस मजदूर विरोधी नीतियों का पूर्ण जोर से विरोध करती है एवं 2 जुलाई से 4 जुलाई से होने वाले हड़ताल में कमेरिशल माइनिंग,श्रमिक कानून में परिवर्तन जैसे मुददो को लेकर अपनी आवाज़ बुलंद करेगी। इस बैठक में इंटक के अध्यक्ष रविंदर सिंह, राजेंद्र प्रताप सिंह,  राजेश तिवारी,अनिल चौधरी, शालिग्राम सिंह ,बाबूजी चेरियन, सिकंदर मिस्त्री, राजू टोप्पो, मनोज भगत, आर के भगत, डी एन भगत, अशोक, लंबोदर मंडल, राम नारायण यादव, के के साहू, अजय राय ,जेपी पटेल, जवाहर सिंह मौजूद रहे



add