Current Date:09 May 2021

अव्यवस्थाओं के बीच कोरिया में शुरू हुआ 18-44 आयु वर्ग का वैक्सीनेशन

जिला मुख्यालय बैकुन्ठपुर से लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पटना में दिखा भारी अव्यवस्था, अव्यवस्था के चलते वैक्सीनेशन कार्यक्रम से एक बार लौट कर 4 घंटे बाद फिर से शामिल हुए विधायक व संसदिय सचिव।

अव्यवस्थाओं के बीच कोरिया में शुरू हुआ 18-44 आयु वर्ग का वैक्सीनेशन

बैकुन्ठपुर (कोरिया) आज कोरिया जिले में 18-44 आयु वर्ग के टीकाकरण की शुरुआत बैकुठपुर विकासखण्ड़ के ग्राम जुनापारा निवासी दंपत्ति संगीता आनंद कश्यप को स्वास्थ्य कर्मी द्वारा पहला टीका लगाकर किया गया। कलेक्टर श्री एसएन राठौर ने स्वयं वैक्सीनेशन साइट मानस भवन बैकुंठपुर पहुंचकर टीकाकरण व्यवस्था का जायजा लिया एवं टीकाकरण के दौरान मौजूद रहकर हितग्राहियों का उत्साह बढ़ाया इस दौरान जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्षनजीर अजहर, सांसद प्रतिनिधिप्रदीप गुप्ता, पूर्व नगरपालिका अध्यक्षअशोक जायसवाल भी उपस्थित रहे।

विधायक आयोजन से लौटे और दुबारा शामिल हुए - बैकुन्ठपुर के मानस भवन में टीकाकरण का शुभारंभ कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें बैकुन्ठपुर विधायक संसदीय सचिव अम्बिका सिंहदेव के प्रोटोकॉल का पालन नहीं होने पर वे मुख्य आयोजन से एक बार तो लौट गई, बताया जा रहा है कि कलेक्टर कोरिया की उपस्थिति में ही वे आयोजन में पहुंची परंतु हमेशा की तरह उनको नजरंदाज करने के बाद वो तुरंत आयोजन से लौट गई, बाद में 4 घण्टे बाद कार्यक्रम में शामिल हुई।

इस तरह भी रही गड़बड़ी -  बताया जा रहा है कि वैक्सीनेसन सेंटर कहाँ बनाया जा रहा है रात तक स्वास्थ्य विभाग को तक पता नही था। मुनादी कर इसकी जानकारी लोगो तक नही पहुंचाई गई। नगर पालिका के वाहन से 4-5 लोगो एक साथ लाया जा रहा है मानस भवन, जिससे संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है। प्रशासन के बगैर तैयारी के शुरू किया वैक्सिनेसन। दोपहर 4 बजे तक सिर्फ 33 लोगों को ही वैक्सीन लग सका था, जब शुरू हुआ तो एक दो लोग ही वैक्सिनेसन सेंटर पहुंच पाए थे, लोगो को इसकी समुचित जानकारी नहीं थी।

पटना में कोरोना संक्रमण जांच कराने वालों के हंगामे के बाद पहुंचे स्वास्थ्य कर्मी - सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पटना में कोरोना संक्रमण की जांच करने वाले कर्मचारी एव बीएमओ 18-44 आयु वर्ग वैक्सीनेशन शुभारंभ कार्यक्रम में चले गए जिससे पटना में 11 बजे तक कोरोना संक्रमण की जांच शुरू नहीं हो पाई थी 9 बजे से 11 बजे तक कोरोना संक्रमण की जांच कराने पहुंचे रोगियों के द्वारा हंगामा करने के बाद आनन फानन में स्वास्थ्य कर्मचारी पहुंचे तब जाकर कोरोना संक्रमण की जांच शुरू हुई।

Naresh Kumar Yadav
Naresh Kumar Yadav

Bureau Chief Koriya Chhattisgarh