Current Date:04 Aug 2021




पीएम के बाद दुबारा पीएम कराने व निष्पक्ष जांच की मांग करते हुए न्यायालीन कर्मचारी का शव लेने से परिजनों ने किया इनकार

एक दिन पहले मिला था न्यायालय के कर्मचारी चपरासी का शव

पीएम के बाद दुबारा पीएम कराने व निष्पक्ष जांच की मांग करते हुए न्यायालीन कर्मचारी का शव लेने से परिजनों ने किया इनकार


बैकुंठपुर (कोरिया) ज़िला सत्र न्यायाधीश के बँगले पर तैनात भृत्य महमूद आलम की मौत के बाद व मृतक महमूद का पीएम करने वाले चिकित्सक को कथित तौर पर जज के घर जाते देखे जाने का आरोप लगाते हुए पीएम पर अविश्वास जताते हुए दूबारा पीएम की माँग परिजनों द्वारा किया जा रहा है जिससे स्थिति तनावपूर्ण बन गया है जिसे देखते हुए ज़िला प्रशासन ने तीन चिकित्सकों का दल गठित कर  मृतक महमूद आलम का फिर से पोस्टमार्टम करने का आदेश दिया गया है।
बात दें कि ज़िला सत्र न्यायाधीश के निवास में तैनात भृत्य महमूद आलम को अस्पताल लाया गया था जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। इस मौत के बाद मृतक के परिजनों ने न्यायाधीश पर गंभीर आरोप लगाते हुए मृत्यु पर सवाल उठाए थे। आरोप लगाया गया कि मृतक भृत्य से अपमानजनक व्यवहार होता था और न्यायाधीश अपने पालतू बीमार कुत्ते की सेवा टहल में उसे लगाए हुए थे। बताया गया है कि पालतू कुत्ते और भृत्य की मौत एक ही दिन हुई है।
मामले में नया तूल तब पकड़ा जबकि मृतक के परिजनों ने आरोप लगा दिया कि मृतक का पीएम करने वाले चिकित्सक को न्यायाधीश ने पीएम के बाद अपने निवास पर बुलाया था। इसके बाद परिजनों ने चिकित्सकों की टीम से पीएम कराए जाने की माँग रख दी। स्थिति को तनावपूर्ण मानते हुए ज़िला प्रशासन ने तीन डॉक्टरों की टीम जिनमें डॉ चिकनजूरी,डॉ बनसरिया और डॉ अजय शामिल हैं को निर्देशित किया है कि वे पीएम करें।वहीं इस विवाद में अब तक प्रथम पीएम रिपोर्ट की प्रायमरी रिपोर्ट भी उपलब्ध नहीं हो पाई है जिससे कि यह पता चल सके कि पहले पीएम करने वाले चिकित्सक ने मृत्यु को लेकर क्या अभिमत दिया है।
Naresh Kumar Yadav
Naresh Kumar Yadav

Bureau Chief Koriya Chhattisgarh