Current Date:09 May 2021

Chhattisgarh : वैक्सीनेशन के लिए जा रही एंबुलेंस ड्राइवर को 3 युवकों ने बनाया बंधक... पुलिस कर रही हैं शिकायत का इंतजार

राजधानी रायपुर के गुढ़ियारी थानाक्षेत्र के पहाड़ी चौक इलाके में बोर्ड टूटने से नाराज युवकों ने Vaccination की गाड़ी लेकर जा रहे ड्राइवर को बीच सड़क पर गाड़ी से उतारा और विवाद करते हुए अपने कार्यालय में कुछ देर के लिए बंद कर दिया।

Chhattisgarh : वैक्सीनेशन के लिए जा रही एंबुलेंस ड्राइवर को 3 युवकों ने बनाया बंधक... पुलिस कर रही हैं शिकायत का इंतजार
रायपुर. राजधानी रायपुर के गुढ़ियारी थानाक्षेत्र के पहाड़ी चौक इलाके में बोर्ड टूटने से नाराज युवकों ने Vaccination की गाड़ी लेकर जा रहे ड्राइवर को बीच सड़क पर गाड़ी से उतारा और विवाद करते हुए अपने कार्यालय में कुछ देर के लिए बंद कर दिया। युवकों की इस हरकत से शासकीय कर्मचारी तो परेशान हुए, लेकिन वैक्सीनेशन भी गुढ़ियारी जोन प्रभावित रहा।
ड्राइवर के साथी स्टाफ ने जोन कमिश्नर को घटना की जानकारी दी तो जोन कमिश्नर ने स्थानीय पार्षद की मदद से ड्राइवर को युवकों की कैद से छुड़वाया, उसके बाद गाड़ी अस्पताल पहुंची। युवकों व उसके परिजनों की रसूख की वजह से पूरे मामले में जिम्मेदार लीपापोती करते रहे और आखिरी में शिकायत ना आने की बात कहते हुए पुलिस महकमें के अधिकारियों ने जांच करने से मना कर दिया।
ड्राइवर ने सोशल मीडिया के माध्यम से बताई आपबीती
पीड़ित ड्राइवर ने अपना वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में अपना दर्द बया किया है। एक मिनट 20 सेकंड के वीडियो में ड्राइवर ने पूरी घटना का विवरण बताया है। पीड़ित का कहना है कि आरोपियों ने मारने का प्रयास किया था। वरिष्ठ अधिकारियों व पुलिस ने बीच बचाव किया, उसके बाद उन्होंने छोड़ा है।

स्वत: संज्ञान क्यों नहीं
वैक्सीनेशन गाड़ी के ड्राइवर से मारपीट करने के मामले में पुलिस स्वत: संज्ञान लेकर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं कर रही है? कोरोना संक्रमणकाल में वैक्सीनेशन की गाड़ी रोकना सबसे बड़ा अपराध है। इसके बाद भी पुलिस पूरे मामले को नजरअंदाज कर रही है।

गुढ़ियारी थाना के निरीक्षक रवि तिवारी ने कहा, वैक्सीनेशन की गाड़ी के ड्राइवर का कुछ युवकों से विवाद होने की जानकारी मिली थी। मामले में अब तक शिकायत नहीं मिली है। शिकायत मिलने के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।