Current Date:11 Apr 2021

बड़ी खबर: छत्‍तीसगढ़ में नक्‍सली हमले के चलते अमित शाह ने रद्द की असम की चुनावी रैलियां, लौट रहे दिल्‍ली

छत्‍तीसगढ़ के सुकमा-बीजापुर बॉर्डर के जंगलों में नक्‍सलियों से हुई मुठभेड़ में अब तक 22 जवान शहीद हुए हैं.

बड़ी खबर: छत्‍तीसगढ़ में नक्‍सली हमले के चलते अमित शाह ने रद्द की असम की चुनावी रैलियां, लौट रहे दिल्‍ली
  1. नई दिल्‍ली(टीम डिजिटल) छत्‍तीसगढ़ के सुकमा-बीजापुर बॉर्डर  के जंगलों में नक्‍सलियों से हुई मुठभेड़ में अब तक 22 जवान शहीद हुए हैं. इसके साथ ही कुछ जवान लापता भी बताए जा रहे हैं. इस बीच असम में चुनावी रैलियां करने पहुंचे गृह मंत्री अमित शाह ने इस हमले पर शोक जताया है. साथ ही उन्‍होंने राज्‍य में रविवार को होने वाली अपनी चुनावी रैलियां रद्द कर दी हैं. वह रविवार को दोपहर बाद दिल्‍ली लौट रहे हैं. दिल्‍ली में वह छत्‍तीसगढ़ में हुए नक्‍सली हमले को लेकर वरिष्‍ठ अफसरों से हालात पर चर्चा करेंगे.

    बीजेपी नेता जितेंद्र सिंह ने जानकारी दी है कि गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को असम में होने वाले उनके चुनाव अभियान में कटौती की है और वह सुकमा में हुए नक्‍सली हमले को लेकर गंभीर है. वह आज ही दिल्‍ली लौट रहे हैं. उन्‍होंने असम में प्रस्‍तावित 3 में से 1 रैली ही की है.

    बता दें कि इससे पहले रविवार को सुबह गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर कहा, 'छत्तीसगढ़ में नक्सलियों से लड़ते हुए शहीद हुए हमारे बहादुर सुरक्षाकर्मियों के बलिदान को मैं नमन करता हूं. देश उनकी वीरता को कभी नहीं भूलेगा. मेरी संवेदना उनके परिवारों के साथ है. हम शांति और प्रगति के इन दुश्मनों के खिलाफ अपनी जंग जारी रखेंगे. कामना है कि घायल जवान जल्‍द ठीक होंगे.' गृह मंत्री अमित शाह ने इस घटना को लेकर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से बात करने के साथ उन्हें हरसंभव मदद का आश्वासन दिया है.
वहीं छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर और सुकमा जिले की सीमा पर हुई मुठभेड़ में 22 जवानों के शहीद होने की जानकारी मिली है. सुरक्षा बलों ने लापता 17 जवानों के शव बरामद किए हैं. राज्य के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने रविवार को बताया सुरक्षा बलों ने आज घटनास्थल से लापता 17 जवानों के शव बरामद किए हैं.
उन्होंने बताया कि शनिवार को सुकमा जिले के जगरगुंडा थाना क्षेत्र के अंतर्गत जोनागुड़ा गांव के करीब सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई थी जिसमें पांच जवानों के शहीद होने और 30 अन्य जवानों के घायल होने की जानकारी मिली थी.