Current Date:25 Sep 2021





प्रधानमंत्री आवास योजना के राशि जारी नहीं होने से हितग्राही परेशान, पंचायत व बैंक के चक्कर लगाने को मजबूर

हितग्राही भुगतान को लेकर जनपद कार्यालय एवं बैंक का चक्कर लगाने मजबूर हैं। ऐसे ही एक आवास का मामला प्रकाश में आया है।

प्रधानमंत्री आवास योजना के राशि जारी नहीं होने से हितग्राही परेशान, पंचायत व बैंक के चक्कर लगाने को मजबूर


मुन्ना पांडेय@लखनपुर। जं प क्षेत्र के ग्राम पंचायतों में प्रधान मंत्री आवास योजना का राशि भुगतान नहीं होने कारण अनेक आवास आधे अधूरे निर्माणाधीन ऐसे ही पड़े हुए हैं, हितग्राही भुगतान को लेकर जनपद कार्यालय एवं बैंक का चक्कर लगाने मजबूर हैं। ऐसे ही एक आवास का मामला प्रकाश में आया है।

दरअसल ग्राम पंचायत वेलदगी में हितग्राही देवनाथ पिता मनबोध को प्रधानमंत्री आवास की स्वीकृति वर्ष 2016 -17 में मिली थी लेकिन इसका भुगतान आज तक नहीं हो पाया है। कुछ दिन पूर्व हितग्राही देवनाथ का देहांत हो गया है। मृतक हितग्राही का पुत्र उमेश्वर राशि के लिए जनपद दफ्तर तथा बैंक का चक्कर लगा रहा है लेकिन आज तक उसका राशि भुगतान नहीं हो पाया है हितग्राही के मृत्यु उपरांत उसके बैंक खाते का ट्रांसफर हितग्राही के नामिनी को किया जाना है लेकिन हितग्राही के पुत्र को जनपद दफ्तर से बैंक और बैंक से जनपद कार्यालय भेजा जाता है। 

मृतक हितग्राही के पुत्र उमेश्वर ने बताया कि मैं करीब दो-तीन साल से चक्कर लगा रहा हूं बैंक और जनपद पंचायत कार्यालय का लेकिन स्वीकृत आवास की  दूसरी किस्त आज तक नहीं मिल पाया है। इसी तरह  मनरेगा के तहत किये कार्य की मजदूरी भुगतान भी आज तक नहीं हो पाया है । 

जनपद पंचायत लखनपुर क्षेत्र के कई ग्राम पंचायतों में  प्रधानमंत्री आवास के हितग्राहियों को आए दिन राशि भुगतान के लिए बैंक तथा दफ्तरों के चक्कर लगाने पड़ रहें हैं। वही मनरेगा के तहत मिलने वाले 50 फीसदी  आवास राशि हितग्राहीयो के खातों में अब तक आवंटित नहीं किया गया है जिससे हितग्राहियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। 

यह बात भी सामने आ रही है कि हितग्राहियों द्वारा सेठ साहूकारों से उधार में लिए गए सामग्री सीमेंट छड इत्यादि उपयोग में आने वाली तमाम मटेरियल की राशि भुगतान नहीं किए जाने कारण उनको मजबूरन चक्रवृद्धि ब्याज का दंश झेलना पड़ रहा है सेठ साहूकारों द्वारा प्रतिदिन ब्याज के दर से हितग्राहियों से राशि की मांग की जा रही है। प्रधानमंत्री आवास  हितग्राहियों को यदि समय पर स्वीकृत राशि के किस्त का भुगतान कर दिया जाता तो हितग्राही इस तरह के होने वाले फजीहत से बच जाते।



Nishu Sharma
Nishu Sharma

News Editor