Current Date:03 Mar 2021

छत्तीसगढ़ के खाद्य मंत्री अमरजीत भगत का असम में ज़ोरदार स्वागत... कांग्रेस के अभियान में हुए शामिल

छत्तीसगढ़ के खाद्य मंत्री अमरजीत भगत का असम में भव्य स्वागत हुआ है।

छत्तीसगढ़ के खाद्य मंत्री अमरजीत भगत का असम में ज़ोरदार स्वागत... कांग्रेस के अभियान में हुए शामिल
असम :  छत्तीसगढ़ के खाद्य मंत्री अमरजीत भगत का असम में भव्य स्वागत हुआ है। वे शिवसागर जिले के नजीरा में आयोजित आमसभा में शामिल हुए, यहाँ भी कर्मा नृत्य से उनका ज़ोरदार स्वागत किया गया है। यहाँ वे असम विधानसभा चुनाव के लिये कांग्रेस के अभियान का हिस्सा बनकर प्रचार आरंभ किया। जहाँ स्थानीय आदिवासी कलाकारों द्वारा कर्मा नृत्य से उनका स्वागत किया गया। इससे पहले वे खवाग और बारबरुवा में कांग्रेस के बूथ संकल्प शिविर में शामिल हुए। यहाँ वे ब्लॉक कांग्रेस समिति द्वारा शुरू किये गये अभियान, ‘मेरा बूथ-मेरा गौरव - हमारी एकता हमारी ताकत है’ का हिस्सा बने। 
मंत्री भगत असम में कांग्रेस के पक्ष में प्रचार कर रहे हैं। यहाँ उन्होंने कांग्रेस उम्मीदवार को जिताने की अपील करते हुए छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के अभिनव पहल व जनहितकारी नीतियों से अवगत कराया। ज्ञात हो कि छत्तीसगढ़ आदिवासी कांग्रेस के अध्यक्ष व कैबिनेट मंत्री अमरजीत भगत ने अपने अभियान की शुरूआत आज गुवाहाटी में कामाख्या देवी के दर्शन के साथ शुरू की। तत्पश्चात में डिब्रुगढ़ होते हुए शिवसागर जिला पहुंचे। जहाँ उनका स्वागत कर्मा नर्तकों द्वारा किया गया। छत्तीसगढ़ में भी खासतौर पर सरगुजा वनांचल में श्री भगत का स्वागत कर्मा नृत्य से किया जाता है और वे भी अक्सर मांदर पर थाप देते नजर आ आते हैं। श्री भगत ने असम के शिवसागर जिले के नजीरा क्षेत्र में अपने उद्बोधन में छत्तीसगढ़ में मौजूदा काँग्रेस सरकार की उपलब्धियों का बखान किया। साथ ही उन्होंने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल किसानों का नेता बताते हुए कहा कि अब तक जो ग्रामीण आँचल के आदिवासी एवं किसान उनके हित के बारे में किसी ने सोचने और उस दिशा में कार्य करने का काम किया है तो वो भूपेश सरकार ने किया है। साथ ही उन्होंने छत्तीसगढ़ में रिकॉर्ड धान खरीदी का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि अगर यहाँ भी कांग्रेस की सरकार आती है तो वे किसानों व आदिवासियों के उत्थान के लिये कार्य करेंगे। इस बीच उन्होंने भाजपा सरकार पर जमकर हमला बोला और पेट्रोल-डीज़ल की बढ़ती कीमतों और गलत नीतियों से हुई देश की आर्थिक दुर्गति पर भी मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया। साथ ही किसान आंदोलन का ज़िक्र करते हुए मंत्री भगत ने कहा कि मोदी सरकार किसानों को उनके खेतों से दूर करना चाहती है।