Current Date:24 Oct 2021





प्लान बना कर मुंह बोली बहन की मासूम बेटी को बनाया हवस का शिकार, फिर कर दी हत्या.. आरोपी की तलाश में पुलिस

आरोपी मुंहबोला मामा दिनेश पुत्र रामचंद्र ने घटना से पहले पूरे होशोहवास में मासूम के साथ दुष्कर्म करने का प्लान बना रखा था। इसके लिए उसने मासूम को लुभाने के मकसद से बिस्किट और कुरकुरे भी खरीदे थे।

प्लान बना कर मुंह बोली बहन की मासूम बेटी को बनाया हवस का शिकार, फिर कर दी हत्या.. आरोपी की तलाश में पुलिस



राजस्थान। नागौर के पादूकलां थाना क्षेत्र के एक गांव में 7 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या करने के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। आरोपी मुंहबोला मामा दिनेश पुत्र रामचंद्र ने घटना से पहले पूरे होशोहवास में मासूम के साथ दुष्कर्म करने का प्लान बना रखा था। इसके लिए उसने मासूम को लुभाने के मकसद से बिस्किट और कुरकुरे भी खरीदे थे।

प्रारंभिक जांच में सामने आया कि आरोपी मुंह बोली बहन के घर पहुंचने पर नशे में धुत होने का नाटक करता रहा। उसने यह पहले प्लान करके रखा था कि नशे की हालत में देख उसे घर तक छुड़वाया जाएगा। इसी बहाने मासूम को उसके साथ भेज देंगे। इसके लिए उसने पहले से बिस्किट व कुरकुरे खरीद कर रखे थे। दोपहर बाद आरोपी ने नशे में होने का नाटक कर कुत्तों से डर की बात कहते हुए मासूम को घर तक छुड़वाने के लिए साथ लिया। नजदीक के खेत में खड़ी बाजरे की फसल में ले जाकर मासूम को बिस्किट और कुरकुरे खिलाए। इसके बाद उसने मासूम के साथ रेप किया। इसके बाद उसने बच्ची की हत्या कर दी और मौके से भाग निकला। 

पुलिस को मौके पर बिस्किट और कुरकुरे के खाली पैकेट और देशी शराब के पाउच मिले हैं। देर रात पुलिस ने उसे मौके से चार किलोमीटर दूर ही पकड़ लिया। घटना के बाद वो इतनी शराब पी चुका था कि उसका नशा उतारने के लिए पुलिस को उसे अस्पताल ले जाकर ग्लूकोज तक चढ़ाने पड़े। बार-बार पूछताछ के बावजूद दिनेश पुलिस को गुमराह करता रहा। उसने घटना के बारे में कोई जानकारी नहीं दी।

पुलिस ने किसी अनहोनी की आशंका से 5 किलोमीटर के क्षेत्र के हर खेत, कुंए, नाली और तालाब को खंगालते हुए बच्ची की तलाश शुरू कर दी थी। बच्ची के परिजन और ग्रामीण भी पुलिस के साथ थे। संदेह के चलते पुलिस और ग्रामीणों ने रात के अंधेरे में टॉर्च की रोशनी से 4-5 कुंओं में बच्ची को तलाशा, लेकिन उनमें कुछ नहीं दिखा। आखिरकार रात 2 बजे बच्ची के घर के पीछे बाजरे की फसल के बीच शव मिला। मौके पर शव की हालत देखते ही पुलिसकर्मियों सहित ग्रामीणों के भी होश उड़ गए। पुलिस ने शव को पादूकलां पीएचसी पहुंचाया। डॉक्टर की टीम ने मंगलवार दोपहर पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिया।

अजमेर रेंज आईजी एस सेंगाथिर भी पादूकलां पहुंचे और घटनास्थल पर पहुंचकर मौके का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने मासूम के माता-पिता से मिलकर उन्हें सांत्वना दी और जल्द से जल्द पुलिस जांच पूरी कर आरोपी को सजा दिलाने की बात बताई। उन्होंने पुलिस की तरफ से परिवार की हरसंभव सहायता करने की भी बात कही। इस दौरान आईजी सेंगाथिर ने कहा कि आरोपी ने प्लान के साथ इस जघन्य अपराध को अंजाम दिया है। पुलिस की तरफ से दोषी को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने के लिए कोई कमी नहीं रखी जाएगी।















Nishu Sharma
Nishu Sharma

News Editor