Current Date:25 Sep 2021





इनविटेशन देने के बाद भी नहीं आए मेहमान तो दुल्हन ने प्रत्येक मेहमान को भेजा बिल, इस वजह से किया ऐसा

एक दुल्हन ऐसी भी है, जिसने मेहमानों के नहीं आने पर शादी में हुए खर्च का औसत निकालकर प्रत्येक मेहमान को उसका बिल भेज दिया।

इनविटेशन देने के बाद भी नहीं आए मेहमान तो दुल्हन ने प्रत्येक मेहमान को भेजा बिल, इस वजह से किया ऐसा


ब्रिटेन। शादी का दिन हर किसी की जिंदगी मे बेहद खास होता है। काफी पहले से इसकी तैयारी लोग शुरू कर देते हैं। शादी की खरीददारी, मेहमानों की सूची, खानपान का मेन्यु आदि काम लोग पहले से शुरू कर देते हैं। हर कोई इस दिन को यादगार बनाना चाहता है और इस पर काफी खर्च भी करता है, मगर क्या हो जब आपने अपनी शादी में जिन मेहमानों को बुलाया, वे आए ही नहीं। बुरा तो जरूर लगता है, लेकिन आप कर भी क्या सकते हैं।

मगर एक दुल्हन ऐसी भी है, जिसने मेहमानों के नहीं आने पर शादी में हुए खर्च का औसत निकालकर प्रत्येक मेहमान को उसका बिल भेज दिया। मामला ब्रिटेन का है। यहां एक दुल्हन ने अपनी शादी के लिए तमाम बेहतरीन व्यवस्थाएं की थी। हर मेहमान पर करीब 175 यूरो यानी 240 डॉलर (लगभग 17 हजार रुपए) खर्च किए, मगर निमंत्रण के बाद भी जब मेहमान नहीं आए, तो गुस्साई दुल्हन ने खराब हुई चीजों का पैसा वसूलने के लिए मेहमानों को बिल भेज दिया।

बिल की कॉपी में स्पष्ट लिखा है कि नो कॉल, नो शो गेस्ट। इसके बाद बिल में नीचे लिखा है कि उन्होंने शादी के रिसेप्शन डिनर को अटेंड नहीं किया और सीटें खाली रही, जिसकी वजह से यह बिल भेजा जा रहा है। इन्वॉयस के नोट सेक्शन में लिखा है कि यह बिल आपको देना होगा क्योंकि आपने हमें पहले से नहीं बताया कि आप पार्टी अटेंड नहीं करेंगे, इसलिए यह बिल आपको जल्द से जल्द जमा कराना होगा। आप ऑनलाइन पेमेंट कर सकते हैं। कृपया आप हमसे संपर्क किजिए और बताइए कि पेमेंट किस तरीके से करेंगे। थैन्क-यू।

सोशल मीडिया पर इस बिल की तस्वीर साझा की गई है। लोग दुल्हन की इस हरकत को गलत बता रह हैं और दलील दे रहे हैं कि शादी का कार्ड आप अनुमान के आधार पर भेजते हैं कि मेहमान आ सकता है और नहीं भी। यह कोई कानूनी अनुबंध नहीं होता। यह एक सामाजिक अनुबंध है और कोरोना महामारी के दौर में शादी या अन्य समारोहों में शामिल होना मुश्किल तथा जोखिमभरा काम है। दूसरी ओर कुछ लोगों ने दुल्हन की इस हरकत का समर्थन करते हुए कहा कि यदि आप पार्टी में नहीं आ रहे तो कम से कम सूचना दे सकते थे।



Nishu Sharma
Nishu Sharma

News Editor