Current Date:03 Mar 2021

बदहाली के साये में आंसू बहा रहा है विश्रामगृह...स्वच्छ भारत मिशन का बन रहा है मजाक

लखनपुर के हृदय स्थल पर बनाया गया विश्राम भवन स्वच्छ भारत मिशन के तमाम नियम कायदों को दरकिनार करते हुए गंदगी का ठिकाना बना हुआ है

बदहाली के साये में आंसू बहा रहा है विश्रामगृह...स्वच्छ भारत मिशन का बन रहा है मजाक
मुन्ना पांडेय@ लखनपर- जहां राष्ट्रीय स्तर में स्वच्छता अभियान को विशेष महत्व दिया जा रहा है स्वच्छता को लेकर बेहिसाब खर्च किए जा रहे हैं वही नगर लखनपुर के हृदय स्थल पर बनाया गया विश्राम भवन स्वच्छ भारत मिशन के तमाम नियम कायदों को दरकिनार करते हुए गंदगी का ठिकाना बना हुआ है  दरअसल पुराने जनपद पंचायत कार्यालय  भवन को वर्तमान में विश्राम गृह का दर्जा प्रशासन स्तर से दे दिया गया है   लखनपुर नगरीय क्षेत्र  के हृदय स्थल और अंबिकापुर बिलासपुर मुख्य मार्ग में बनाया गया यह विश्राम गृह भवन जनपद पंचायत तथा नगरीय निकाय  दो पाटों के बीच  पीस रहा है  विश्राम गृह गंदगी का अखाड़ा बना हुआ है देखरेख के अभाव में पुराने जनपद भवन अर्थात विश्राम गृह को लोगों ने कचरा खाना बनाकर रख दिया है   उक्त विश्राम भवन शासन प्रशासन की उपेक्षा का दंश झेल रहा है पूर्व में उक्त पुराने जनपद पंचायत भवन को तत्कालीन कलेक्टर आर प्रसन्ना के द्वारा विश्राम गृह बना दिया गया था तथा लाखों रुपए खर्च भी किए गए थे फर्नीचर सहित तमाम  सहज सज्जा की समाने भी विश्राम भवन में व्यवस्थित की गई थी  परंतु आज  विश्राम भवन का अस्तित्व खतरे में है । जनपद पंचायत लखनपुर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी  आए और चलें गए  परंतु इस ओर किसी  भी अधिकारी ने व्यवस्था सुधार को लेकर ध्यान नहीं दिया  जिसके कारण धीरे धीरे विश्राम भवन  असामाजिक तत्वों का डेरा बना रहा तथा उसके बाद धीरे-धीरे शहर के पूरे गंदी नालियों का पानी एवं पूरे दुकानों का कचरा परिसर के चारों तरफ फेंका जा रहा है। जहां गंदगी धीरे धीरे चारों तरफ फैलती जा रही है इसकी रोकथाम न तो जनपद पंचायत लखनपुर के सीईओ और ना ही नगर पंचायत के द्वारा किया जा रहा है।
जिसके कारण नगर पंचायत लखनपुर और जनपद पंचायत के बीच के क्षेत्र की लड़ाई के कारण ना ही नगर पंचायत इस ओर ध्यान दे रही है और ना ही जनपद के आला अधिकारी व प्रतिनिधि इस ओर ध्यान दिया जा रहा है ।
लखनपुर के हृदय स्थल में बना यह पुरानी जनपद पंचायत एवं विश्राम गृह भवन जनपद पंचायत लखनपुर के प्रशासनिक अधिकारियों एवं कर्मचारियों तथा जनप्रतिनिधियों के गैर जिम्मेदाराना रवैया के कारण आज पुराने जनपद भवन विश्राम  गृह मैं चारों तरफ गंदगी पसरा हुआ है तथा भवन बद से बदतर  होकर रह गया है।


क्षेत्रवासियों के द्वारा सरगुजा कलेक्टर यह मांग बार-बार किया जा रहा था कि उक्त  बनाया गया विश्राम भवन को नगर पंचायत को  हस्तांतरित किया जाए परंतु जनपद और नगर पंचायत के बीच का रास्ता नहीं निकल सका जिससे  उक्त विश्राम गृह उपेक्षित बदहाल पड़ा हुआ है 


परंतु जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के द्वारा देखरेख तो कोसों दूर यहां सालों बीतने के बाद भी साफ सफाई नहीं किया जाता जिसके कारण अब गंदगी के साथ-साथ भवन भी जर्जर अवस्था की ओर बढ़ने लगा  है
जिसे देखते हुए क्षेत्रवासियों के द्वारा सरगुजा कलेक्टर से यह मांग किया जा रहा है कि लखनपुर के हृदय स्थल में होने के बाद भी इसको नगर पंचायत को हस्तांतरण कर देना चाहिए जिससे नगर पंचायत के द्वारा उक्त स्थल में बेरोजगारों के लिए दुकानों का निर्माण  हो सके और बेरोजगारों को रोजगार मुहैया कराया जा सके।