Current Date:05 Dec 2021






अंधविश्वास का खेल, बच्चे की चाह में हत्या, 'मर्डर 2' देख बनाई प्लानिंग

आरोपियों ने बताया कि मर्डर-2 फ़िल्म देखकर उन्हें ये प्लान दिमाग में आया और उन्होंने कॉल गर्ल को बुलाकर बलि देने का सोचा। आरोपियों ने सोचा कॉलगर्ल को बुलाकर उसकी बलि दे देंगे।

अंधविश्वास का खेल, बच्चे की चाह में हत्या, 'मर्डर 2' देख बनाई प्लानिंग


ग्वालियर : ग्वालियर में हुए आरती मिश्रा हत्याकांड को लेकर सनसनीखेज खुलासे हुए हैं। इसमें 2 महिला और तांत्रिक समेत पांच आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं।

मामले पर चल रही जांच में पता चला है कि 18 साल से निसन्तान दम्पति ने आरती की हत्या की थी। इसे लेकर पूर्णिमा की रात में बलि चढ़ाने के लिए आरती की हत्या की गई। मामले में मुरैना के एक तांत्रिक का रोल भी सामने आया है, जिसनें बच्चा होने के लिए महिला की बलि चढ़ाने का उपाए बताया था। उसने दावा किया था कि पूनम की रात में किसी महिला की बलि चढ़ने के बाद नि:संतान दम्पति के घर बेटा होता है।

मरने वाली महिला कॉल गर्ल

पुलिस ने हत्याकांड के पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी दंपति ममता भदौरिया, उसका पति बेटू भदौरिया,बेटू की बहन मीरा राजावत और बॉयफ्रेंड नीरज परमार गिरफ्तार किए गए हैं। साथ ही एक तांत्रिक गिरवर यादव को भी पुलिस ने पकड़ा है। मरने वाली महिला कॉल गर्ल थी, जिसे 10 हजार रूपए देकर बुलाया था। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि मर्डर-2 फ़िल्म देखकर उन्हें ये प्लान दिमाग में आया और उन्होंने कॉल गर्ल को बुलाकर बलि देने का सोचा। आरोपियों ने सोचा कॉलगर्ल को बुलाकर उसकी बलि दे देंगे। कोई पूछताछ भी नहीं करेगा और पुलिस कुछ दिन जांच करने के बाद भूल जाएगी, लेकिन कॉलगर्ल की कॉल डिटेल और सीसीटीवी फुटेज ने मर्डर मिस्ट्री का खुलासा किया।


लाश बाइक से गिरने पर भागे

बच्चे की चाह में दंपती तांत्रिक की बातों में आ गई और हत्या का प्लान बना लिया। जिसके बाद महिला को मारकर दंपती की बहन और उसका बॉयफ्रेंड लाश तांत्रिक के पास ले जा रहे थे, जिस समय लाश बाइक से गिर गई। इसके बाद वो डर गए और लाश को छोड़कर भाग गए। इसके बाद सीसीटीवी से पूरे मामले का खुलासा हुआ।















Anjali Chandel
Anjali Chandel

www.hindustanpath.com