Current Date:24 Oct 2021





छत्तीसगढ़: हंगामा कर रहे कांग्रेसी नेता के बेटे को रोकने पर एसडीओपी से की बदतमीजी और झुमाझटकी

स्टेडियम में गरबा के दौरान हुए विवाद और हंगामे को रोकने पर युवकों ने एसडीओपी से बदतमीजी और झुमझटकी की। आरोपी युवकों में मुख्य आरोपी सिद्धार्थ श्रीवास्तव कांग्रेस प्रदेश सचिव मनीष श्रीवास्तव का बेटा है।

छत्तीसगढ़: हंगामा कर रहे कांग्रेसी नेता के बेटे को रोकने पर एसडीओपी से की बदतमीजी और झुमाझटकी



कोंडागांव। कोंडागांव के विकास नगर स्थित स्टेडियम में गरबा के दौरान हुए विवाद और हंगामे को रोकने पर युवकों ने एसडीओपी से बदतमीजी और झुमझटकी की। आरोपी युवकों में मुख्य आरोपी सिद्धार्थ श्रीवास्तव कांग्रेस प्रदेश सचिव मनीष श्रीवास्तव का बेटा है। 

आरोप हैं कि सभी युवक घटना के दौरान नशे में थे। पुलिस ने इस मामले में 10 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर सभी को गिरफ़्तार किया है। बीती रात मैदान में गरबा का आयोजन हुआ था। इस दौरान करीब 12 बजे पुलिस को हंगामे की सूचना मिली। सूचना पर एसडीओपी निमितेश सिंग परिहार मौके पर पहुँचे और हंगामा शांत कराने की कोशिश करने लगे। 

इस दौरान नशे में एक युवक ने एसडीओपी से विवाद करते हुए मारपीट शुरू कर दी। विवाद होता देख एसडीओपी का वाहन चालक बीच बचाव करने पहुंचा तो आरोपी ने उसका मोबाईल छीनकर जमीन पर पटक दिया। साथ ही बीच बचाव करने आये डीएसपी नक्सल ऑपरेशन सतीश भार्गव के साथ भी नशे में धुत्त आरोपियों ने बदतमीजी की। पुलिस ने इस मामले में शामिल सभी 10 आरोपियो को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने कोंडागांव कांग्रेस प्रदेश सचिव मनीष श्रीवास्तव के पुत्र सिद्धार्थ श्रीवास्तव, आदित्य माने, गौरव संचेती, अंकित शर्मा, शुभम साहा, नितिन कटियारा, निखिल चौहान, नितिन घोष, कृष्ण कुमार और गौतम गायकवाड़ इन 10 युवाओं के खिलाफ धारा 147,149,186,353,294,506,323,307 IPC, SC/ST एक्ट धारा 3(1)(द)(ध),3(2)(वी क) के तहत मामला दर्ज कर सभी 10 आरोपियो को गिरफ्तार कर लिया है। बता दें प्रदेश सचिव मनीष श्रीवास्तव को एक वरिष्ठ कांग्रेसी नेता का करीबी कहा जाता है। कांग्रेस नेता मनीष श्रीवास्तव के पुत्र सिद्धार्थ श्रीवास्तव पर पूर्व में भी एक महिला से मारपीट करने के मामले में एफआईआर दर्ज की जा चुकी हैं।















Nishu Sharma
Nishu Sharma

News Editor