Current Date:25 Sep 2021





Google में "काॅल गर्ल नियर मी” सर्च कर ठगों के चंगुल में फंसा स्कूली छात्र, बदनामी के डर से गंवाई मोटी रकम

छात्र ने अपने पापा के मोबाइल से गूगल पर "काॅल गर्ल नियर मी” साइट सर्च किया। इस दौरान कुछ नबंर दिये थे, जिसमें छात्र ने मैसेज कर लड़कियों की फोटो व प्राइज पूछा।

Google में "काॅल गर्ल नियर मी” सर्च कर ठगों के चंगुल में फंसा स्कूली छात्र, बदनामी के डर से गंवाई मोटी रकम


रायपुर। राजधानी के पंडरी थाना क्षेत्र के मोवा में हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक स्कूली छात्र ने कॉल गर्ल के साथ समय गुजारने की चाहत में पिता के मोबाइल से 1 लाख रुपए से अधिक की राशि ठगों को दे दी। जब इसे ठगी का एहसास हुआ तो पंडरी थाने में शिकायत करने पहुंचा।

दरअसल 21 जुलाई को 16 वर्षीय स्कूली छात्र ने अपने पापा के मोबाइल से गूगल पर "काॅल गर्ल नियर मी” साइट सर्च किया। इस दौरान कुछ नबंर दिये थे, जिसमें छात्र ने मैसेज कर लड़कियों की फोटो व प्राइज पूछा। तब सामने वाले फ्राॅड ने वाट्सएप नबंर पर दो घंटे के तीन हजार रूपए में रेट फिक्स किया। साथ इस दौरान उनकी सुरक्षा के नाम पर छात्र से 14 हजार रूपए की मांग भी की। नाबालिग ने 10 हजार देकर मिलने के लिए आरोपी से लोकेशन पूछा तो उसने होटल आदित्य केके रोड पर आने को कहा।

जब नाबालिग छात्र ने जयस्तंभ चौक पहुंच दोबारा उसी नंबर पर काॅल किया, तो इसके बाद आरोपी उसे उसकी फोटो वायरल करने की धमकी देने लगा और खुद को नया रायपुर का गुंडा बताकर पैसे मांगने लगा। नाबालिग लड़के ने बदनाम होने की डर से अपने पिता के मोबाइल से अलग-अलग किस्तों में कुल 1 लाख 86 हजार रूपए आरोपी के खातों में ट्रांसफर कर दिया।

एकाउंट से रूपए कटने की जानकारी जैसे ही नाबालिग के पिता को हुई तो उसने अपने बेटे से इस बारे में पूछताछ की, जिसके बाद नाबालिग ने इस पूरी घटना की जानकारी अपने पिता को दी। घटना के 12 दिन बीत जाने के बाद अब इस बारे में नाबालिग ने पंडरी थाने में शिकायत दर्ज करायी है। पीड़ित की शिकायत पर ऑनलाइन फ्राॅड 420 का मामला दर्ज कर आगे की जांच की जा रही है।



Nishu Sharma
Nishu Sharma

News Editor