Current Date:03 Mar 2021

कांग्रेस सरकार के खिलाफ भाजपा महिला मोर्चा का हल्ला बोल...कहा प्रदेश के कानून व्यवस्था बदतर हो गई हैं

सूरजपुर में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन भाजपा महिला मोर्चा के द्वारा किया गया .

कांग्रेस सरकार के खिलाफ भाजपा महिला मोर्चा का हल्ला बोल...कहा प्रदेश के कानून व्यवस्था बदतर हो गई हैं
सूरजपुर-भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा सूरजपुर के द्वारा आज अग्रसेन चौक में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन एवं आमसभा कर कांग्रेस सरकार के द्वारा छत्तीसगढ़ में कानून व्यवस्था की बदतर स्थिति प्रदेश की बहन बेटियों पर लगातार हो रहे  अत्याचार के विरोध में हल्ला बोल कार्यक्रम किया गया तथा रैली के माध्यम से एसडीएम कार्यालय जाकर महामहिम राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी जिला अध्यक्ष बाबूलाल अग्रवाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ में जब से भूपेश बघेल की सरकार आई है तब से प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति बदतर हो गई है और प्रदेश की बहन बेटियों पर लगातार अत्याचार के मामले बढ़ रहे हैं प्रदेश में पिछले 2 वर्ष में 5347 बलात्कार और 4038 अपहरण के मामले सामने आए हैं उसके पश्चात भी प्रदेश में बैठे मंत्री के द्वारा यह कहा जा रहा है की छोटे-मोटे अपराध है और यह घटनाएं होती रहती है कोई खास बात नहीं है , उन्होंने महिला मोर्चा के द्वारा किए गए हल्ला बोल कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि सूरजपुर जिला की महिलाएं भी अब जागरुक हो चुकी हैं और इस प्रदेश सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए दृढ़ संकल्पित हैं महिला मोर्चा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य  पूर्णा जायसवाल एव शशी किरण खेस ने कहा की भूपेश सरकार के राज्य में आए दिन महिलाओं पर अत्याचार हो रहे हैं और  जशपुर जिले का एक अमानवीय एवं  घृणित मामला  सामने आया है जहां अंचल की बेटी को 6 बार अलग-अलग लोगों के हाथ बेचा गया और बाद में युवती ने आत्महत्या कर ली इसी प्रकार कोरबा जिले के एक गांव में 16 वर्षीय किशोरी के साथ सामूहिक बलात्कार जैसी घटनाएं झकझोर कर रख दी है . उसके पश्चात  भी इस सरकार के द्वारा कोई ठोस कार्यवाही नहीं की जा रही है प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सुमन सिंह एवं पूर्व जनपद अध्यक्ष संध्या सिंह ने सभी महिलाओं को आगे बढ़कर इस कांग्रेसी सरकार का विरोध कर सबक सिखाने की अपील आम लोगों से की और कहा कि भूपेश सरकार  में छत्तीसगढ़  की महिलाएं सुरक्षित नहीं है . जिला पंचायत सदस्य लक्ष्मी राजवाड़े एवं नूतन विश्वास के द्वारा कहा गया कि पूरे छत्तीसगढ़ के साथ-साथ कोई ऐसा जिला  नहीं बचा है जहां महिलाओं के साथ अत्याचार नहीं हो रहा है उन्होंने सूरजपुर बलरामपुर तथा आसपास के अन्य जिलों में महिलाओं के विरुद्ध हो रहे अत्याचारों के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि महिला मोर्चा के द्वारा आज का यह आंदोलन भूपेश सरकार को उखाड़ फेंकने की दृष्टि से किया गया है और यदि महिलाओं के विरुद्ध हो रहे अत्याचार बंद नहीं हुए तो अब आगे और भी सड़क की लड़ाई महिला मोर्चा लड़ेगी कार्यक्रम में महिला मोर्चा के किरण केराम , शकुंतला पाठक, विमला भगत, अनीता सिंह, मोहिनी झा रुकमणी सिंह ,देव मुनिया साहू के द्वारा भी संबोधित करते हुए  अपनी बात कही l 
   भटगांव के किरण कुजुर के द्वारा सभा के दौरान उसके पति के 4 माह पूर्व  हत्या के प्रकरण में कोई सुराग नहीं मिलने पर रोते-रोते अपनी व्यथा बताई और कहीं की 4 माह पूर्व उनके पति जो हर्ष कंपनी में काम करते थे उनकी हत्या हो गई परंतु वरिष्ठ अधिकारियों से कई बार मिलने पर और ज्ञापन देने के पश्चात भी हत्यारों के विरुद्ध कोई कार्यवाही पुलिस प्रशासन द्वारा नहीं की जा रही है l
    कार्यक्रम का संचालन जिला महामंत्री महिला मोर्चा शांति सिंह के द्वारा किया गया सभा पश्चात महिला मोर्चा के सभी कार्यकर्ता रैली के रूप में एसडीएम कार्यालय जाकर महामहिम राज्यपाल के नाम पर ज्ञापन सौंपा गया तथा यह मांग की गई  की महिलाओं पर हो रहे अत्याचार के विरुद्ध कार्रवाई कराई जावे l आज के इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रामसेवक पैकरा ,जिला महामंत्री राजेश महलवाला, जिला उपाध्यक्ष  अनूप सिन्हा कोषाध्यक्ष थलेश्वर साहू, जिला मंत्री संदीप अग्रवाल ,मंडल अध्यक्ष अजय अग्रवाल, शशीकांत गर्ग ,आनंद सोनी, सत्यनारायण जायसवाल, भगवान मिश्रा, जयशंकर देवांगन ,सहित महिला मोर्चा के रुक्मणी सिंह ,पूनम देव, रेनू सोनी, सीमा सिंह, मीना राजवाड़े   बॉर्बी राजवाड़े, नेहा तिवारी,  राम बाई देवांगन ,गीता जयसवाल ,देवांगन धन कुमारी देवांगन, कौशल्या सिंह, उर्मिला सिंह, अनीता साहू ,चंद्रकला साहू , सुरेखा दास सहित सैकड़ों महिलाएं उपस्थित थे l