Current Date:13 Jun 2021


सूरजपुर पुलिस की कार्यवाही... चोरी के 02 बाइक के साथ 02 आरोपी को किया गिरफ्तार... ग्राहक के तलाश में थे आरोपी

सूरजपुर पुलिस कार्यवाही करते हुए दो बाइक चोर को गिरफ्तार किया है.

सूरजपुर पुलिस की कार्यवाही... चोरी के 02 बाइक के साथ 02 आरोपी को किया गिरफ्तार... ग्राहक के तलाश में थे आरोपी
सूरजपुर: बिश्रामपुर पुलिस ने कार्यवाही करते हुए 2 बाइक चोर को गिरफ्तार किया है. 6 मई को थाना प्रभारी सुभाष कुजूर को मुखबीर से सूचना मिली कि ग्राम मानी चैक के तरफ से ग्राम सपकरा का सुखदेव राजवाडे एवं ग्राम डेडरी का विफल राजवाडे दोनों चोरी का 2 नग अलग अलग मोटर सायकल पल्सर व सीडी डिलक्स लेकर बिक्री करने कुरूवां-केशवनगर तरफ आ रहे है जिसकी सूचना से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर राजेश कुकरेजा को अवगत कराए जाने पर उन्होंने फौरन थाना प्रभारी को पूर्ण सतर्कता के साथ उन्हें पकड़ने के निर्देश दिए।
        सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु के मार्गदर्शन में विश्रामपुर की पुलिस टीम मुखबीर की सूचना के आधार पर ग्राम कुरूवा बाजार ग्राउण्ड के पास घेराबंदी लगाई कुछ समय बाद ग्राम डेडरी की ओर से 2 व्यक्ति अलग-अलग मोटर सायकल में ़आते दिखाई दिये जिन्हें रोककर पूछताछ किया गया। पल्सर मोटर सायकल सीजी 15 डीसी 6444 वाले को चला रहे व्यक्ति ने अपना सुखदेव राजवाड़े पिता किशुन राजवाड़े उम्र 22 वर्ष निवासी ग्राम सपकरा बरपारा थाना सूरजपुर एवं दूसरे मोटर सायकल बिना नंबर सीडी डिलक्स मोटर सायकल चलाने वाले ने अपना नाम विफल राम पिता स्व.चैतु राम राजवाड़े उम्र 40 वर्ष निवासी डेडरी थाना सूरजपुर का होना बताया। दोनों से मोटर सायकल के दस्तावेज की मांग किए जाने पर कोई वैध दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किए। दोनों मोटर सायकल चोरी का होने की पूर्ण संभावना पर धारा 41(1-4) जा.फौ./379 भादवि के तहत कार्यवाही करते हुए 2 नग मोटर सायकल कीमत 80 हजार रूपये को जप्त कर दोनों आरोपियों को विधिवत गिरफ्तार किया गया।
      थाना प्रभारी विश्रामपुर ने बताया कि प्रकरण में जप्त मोटर सायकल के स्वामी की पतासाजी की जा रही है, पूछताछ पर आरोपीयों द्वारा पल्सर मोटर सायकल को इस वर्ष मैनपाट में हुए कार्निवाल से चोरी करना तथा हीरो होण्डा सीडी डिलक्स को जिला अस्पताल अम्बिकापुर से चोरी करना एवं बिक्री करने के लिए ग्राहक की तलाश के दौरान गिरफ्तर में आना बताया है। 
      इस कार्यवाही में थाना प्रभारी बिश्रामपुर सुभाष कुजूर, एएसआई के0डी0 बनर्जी, आरक्षक अभिषेक पाण्डेय, अकरम मोहम्मद, देवनंदन राजवाड़े, अजय सिंह व नागेश नाहक सक्रिय रहे।