Current Date:24 Oct 2021





सूरजपुर : बच्चों को शिक्षित करने के साथ लोगों को टीकाकरण के लिए भी जागरूक कर रहे शिक्षक दिनेश साहू

माईक लेकर रोजाना दिनेश गांव के गली मोहल्ले मे घुमकर ग्रामीणों को शिक्षा के शैली से जागरुक करते नजर आते है।

सूरजपुर : बच्चों को शिक्षित करने के साथ लोगों को टीकाकरण के लिए भी जागरूक कर रहे शिक्षक दिनेश साहू



सूरजपुर। दुनियाभर में कोहराम मचा रहे कोरोना से निजात पाने अब टीकाकरण शुरू कर दिया गया है। जिसके लिए ग्रामीणों को जागरुक करने में स्वास्थ्य विभाग के साथ प्रशासन की कई टीमें अलग अलग माध्यमों से जुटी हुई है।

वहीं सूरजपुर जिले का एक शिक्षक अपने गांव को टीकाकरण के लिए अनुठे ढंग से जागरुक करने मे जुटा हुआ है जो लोगों को कोरोना संक्रमण से सुरक्षित करने के लिए दिन रात एक किए हुए है। जिले के शासकीय प्राथमिक स्कूल सुंदरगंज का एक शिक्षक दिनेश साहू जिसकी ड्युटी सुंदरगंज गांव के ग्रामीणों को टीकाकरण के लिए जागरुक करने के लिए लगाया गया है। 

दिनेश पिछले एक साल से कोरोना काल मे पहले बच्चो को घरों में ही पढ़ाने के लिए नवाचार करके कभी मोहल्ला क्लास,कभी आनलाईन तो कभी मिस्ड काल गुरुजी जैसे प्रयोग कर छात्रो को पढाते रहें। वहीं अब टीकाकरण के लिए ग्रामीणों को जागरुक करने के ड्युटी में लगे दिनेश साहु ने गांव में शत प्रतिशत टीका लगावाने के लिए जागरुकता मे भी नवाचार कर ग्रामीणों को टीकाकरण के बारे मे बता कर जागरुक कर रहे है। जहां माईक लेकर रोजाना दिनेश गांव के गली मोहल्ले मे घुमकर ग्रामीणों को शिक्षा के शैली से जागरुक करते नजर आते है। यहां तक कि अपने पैसों से मास्क खरीद कर अपने बैग में लेकर निकल जाते है और जो लोग बिना मास्क के नजर आए उसे मास्क भी पहना कर कोरोना से बचने के लिए जागरुक करते है।


कोरोना संक्रमण से लड़ने के लिए उम्मीद का टीका को लेकर ग्रामीणों मे पहले अफवाह भी थी और ग्रामीण टीकाकरण से बचते नजर आ रहे थे लेकिन शिक्षक दिनेश ने इसे चुनौती मानते हुए टीकाकरण के लिए ग्रामीण मे जागरुकता की अलख जगाने का बीड़ा उठा लिया। ग्रामीणों को जागरुक करने के दौरान उनकी
समस्या से भी अवगत होते है और उन समस्याओ को दुर करने के लिए खुद के खर्च से साबुन मास्क जैसी चीजे भी बांटने लगे।

इस सबके परिणामस्वरूप सुंदरगंज के लोग शिक्षक से प्रभावित होकर खुद भी टीकाकरण सेंटरो तक पहुंच रहे है। ग्रामीणों का कहना है कि शिक्षक दिनेश पिछले 2005 से ही गांव के स्कुल मे पदस्थ है और उनके गांव के लगाव को देख ग्रामीण भी टीकाकरण के लिए सामने आ रहे है।















Nishu Sharma
Nishu Sharma

News Editor