Current Date:25 Sep 2021





अफगानिस्तान में ISIS के गढ़ में अमेरिका ने की एयर स्ट्राईक...बरसाएं बम के गोले... काबुल हमले का लिया बदला

अमेरिकी सेना ने ISIS के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक की है.

अफगानिस्तान में ISIS के गढ़ में अमेरिका ने की एयर स्ट्राईक...बरसाएं बम के गोले... काबुल हमले का लिया बदला


काबुल: अमेरिकी सेना ने ISIS के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक की है. ड्रोन से पूर्वी अफगानिस्तान में हमला बोला है. अमेरिका ने काबुल धमाके के बाद बदला लेने का ऐलान किया था.

ISIS के ठिकानों पर हवाई हमला

बता दें कि काबुल सीरियल धमाकों के जवाब में अमेरिका ने ISIS पर एयर स्ट्राइक की. खबर है कि इस हमले में ISIS को भारी नुकसान हुआ है. काबुल एयरपोर्ट पर हमले के 36 घंटे के भीतर अमेरिका ने ISIS के ठिकानों पर हवाई हमले किए. अमेरिकी ड्रोन से ISIS को निशाना बनाया गया.

हमले में मारे गए आतंकी

अमेरिकी सेना के प्रवक्ता नेवी कैप्टन बिल अर्बन  ने कहा कि अफगानिस्तान के नांगरहार प्रांत में ISIS-K के ठिकानों पर अमेरिकी सेना ने एयर स्ट्राइक की है. संकेत मिल रहे हैं कि हमने टारगेट को मार दिया है. इस हमले में कोई भी आम नागरिक नहीं मारा गया.

काबुल एयरपोर्ट की सुरक्षा बढ़ाई गई

जान लें कि अमेरिका की नेशनल सिक्योरिटी टीम ने राष्ट्रपति बाइडेन से मिलकर काबुल एयरपोर्ट पर सुरक्षा और बढ़ाने की बात कही है. अमेरिका काबुल एयरपोर्ट पर सुरक्षा के इंतजाम को बढ़ा रहा है. अमेरिका ने काबुल एयरपोर्ट पर और आतंकी हमले होने की आशंका जताई है.
अमेरिका ने अफगानिस्तान के नांगरहार में एयर स्ट्राइक की है. नांगरहार में आईएसआईएस के आतंकियों का गढ़ है. ये इलाका अफगानिस्तान और पाकिस्तान के बॉर्डर पर है. अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद तालिबान ने जेल में बंद बहुत से आतंकियों को छोड़ा है, जिसमें ISIS के आतंकी भी शामिल हैं.
काबुल एयरपोर्ट सीरियल ब्लास्ट के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने काफी नाराजगी जताई थी. उन्होंने आतंकियों को चुन-चुन कर मारने की चेतावनी दी थी. अफगानिस्तान में ISIS के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक करके अमेरिकी सेना ने ऐसा ही किया. काबुल धमाके में अमेरिकी सैनिकों के मारे जाने के बाद से यूएस एक तरह से दबाव में है. जिसके बाद उसने एयर स्ट्राइक को अंजाम दिया.