Current Date:24 Oct 2021





राशन विक्रेता संघ की सूरजपुर जिला इकाई की बैठक हुई सम्पन्न

मुख्यालय स्थित गायत्री मंदिर परिसर में छत्तीसगढ़ राशन विक्रेता संघ के जिला इकाई की बैठक आयोजित की गई। जिसमें प्रदेश स्तर के दो दर्जन से भी ज्यादा पदाधिकारी मौजूद रहे।

राशन विक्रेता संघ की सूरजपुर जिला इकाई की बैठक हुई सम्पन्न




 मोबीन खान@सूरजपुर/भैयाथान। मुख्यालय स्थित गायत्री मंदिर परिसर में छत्तीसगढ़ राशन विक्रेता संघ के जिला इकाई की बैठक आयोजित की गई। जिसमें प्रदेश स्तर के दो दर्जन से भी ज्यादा पदाधिकारी मौजूद रहे। 

यह बैठक संगठन को एकजुटता दिलाने व राशन विक्रेताओं को हो रहे परेशानियों सहित विभिन्न विषयों को लेकर रखा गया था। बैठक को संबोधित करते हुए राशन विक्रेता संघ के अध्यक्ष रामदेव सिन्हा ने कहा कि प्रदेश के राशन विक्रेता अपने कार्य का निष्पादन काफी बेहतर तरीके से कर रहे हैं जिसके लिए आप सभी बधाई के पात्र हैं। परंतु आप सभी के द्वारा किया जा रहा यह कार्य छत्तीसगढ़ सरकार को नही दिख रहा है तभी तो आय दिन राशन दुकानों को छीना जा रहा है और दुकानदारों को बेवजह परेशान किया जा रहा है ,यहां तक कि बीते वर्ष कोरोनाकाल के दौरान जब सभी लोग अपने घरों में सुरक्षित थे उस वक्त हम सभी मिलकर अपने जान की परवाह किये बिना निःशुल्क राशन वितरण का कार्य कर रहे थे ,पर शासन द्वारा किसी भी राशन विक्रेता का सम्मान नही किया गया और न ही उनकी किसी प्रकार से हौसलाअफजाई किया गया , बल्कि शासन व प्रशासन के लोग राशन विक्रेताओं हमेशा गलत साबित करने में लगे रहते हैं। संघ के प्रदेश महासचिव विजय धृतलहरे ने कहा कि आप सभी को एक होकर संगठन को मजबूती प्रदान करना है और अपने हक के लिए लड़ना है। उंन्होने आगे कहा कि छत्तीसगढ़ की पीडीएस योजना पूरे देश मे एक रोल मॉडल है और हमारे प्रदेश में संचालित इस योजना को ही देखकर अन्य राज्यों में भी इसका क्रियान्वयन किया जा रहा है , परन्तु यह बहुत बड़ी विडंबना है की अन्य प्रदेशों की अपेक्षा हमारे प्रदेश में राशन विक्रेताओं का कमीशन इतना कम है की उस कमीशन से विक्रेताओं का परिवार भी ठीक ढंग से नही चल सकता, प्रदेश की सरकार महिला सशक्तीकरण की बात करती है पर छत्तीसगढ़ में सबसे ज्यादा राशन विक्रय करने वाली एजेंसी महिला समूहों की है । उंन्होने उपस्थित लोगों से कहा कि आने वाले दिनों में हम अपनी मांगों को लेकर प्रदेश स्तरीय एक बड़ा आंदोलन करेंगे जिसके लिए आप सभी अपने संगठन को मिल कर मजबूती प्रदान करें। इस बैठक को राशन विक्रेता संघ के प्रदेश सचिव युवराज साहू व महिला मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मनिया उईके व प्रदेश सलाहकार विजय राठौर ने भी संबोधित किया और सभी से संघ को मजबूती प्रदान करने की अपील की। बैठक का संचालन राशन विक्रेता संघ के जिला अध्यक्ष राकेश पाठक ने किया। इस दौरान कमलेश जैन, कृष्णा पटेल, संतोष मलैया, ओम प्रकाश साहू,लाला राम कोशले, संम्पत सिंह, सुरेंद्र साहू, कपुरचंद्र गुप्ता, नधिर पैकरा, नरेश ठाकुर, आलमसाय राजवाड़े,उदय यादव, मोहरलाल जायसवाल , दुर्गावती साहू, कौशिल्या मिंज, सुधीर सिंह, जाबिर हुसैन, निर्मल पैकरा, संजय सिंह ,बंसी,रामकुमार यादव सहित काफी संख्या में राशन विक्रेता उपास्थि थे।

विक्रेताओं ने बताई समस्या

बैठक के दौरान उपस्थित विक्रेताओं ने प्रदेश संगठन को अपनी समस्या बताते हुए कहा कि , कोरोना महामारी के दौरान बीते वर्ष बिना कमीशन का व अपनी जान माल की परवाह किये बिना हमारे द्वारा राशन वितरण का कार्य किया गया, जिसका पच्चास प्रतिशत राशि शासन द्वारा विक्रताओं को प्रदान करने के लिए नागरिक आपूर्ति निगम को भेजा गया पर सुरजपुर जिले में विक्रेताओं के ज्यादातर राशि में कटौती कर दिया गया कई विक्रेताओं को तो एक रुपये भी अभी तक नही मिला वहीं नागरिक आपूर्ति निगम के अधिकारियों से पूछने पर कहा जाता है कि आपके दुकान का दश वर्ष पूर्व की डीडी राशि शेष होने के कारण काटा गया है, प्रमाण मांगने पर प्रमाण भी नही दिखाते कुछ दुकान वाले तो सूचना के अधिकार के तहत जानकारी भी लेनी चाही पर उसमें लोगों को गुमराह किया गया है। विक्रताओं के द्वारा बताए गए समस्या को सुनकर प्रदेश अध्यक्ष रामदेव सिन्हा ने कहा कि अगर किसी दुकान की राशि मे कटौती की गई है तो सम्बंधित अधिकारी को उसका प्रमाण देना होगा अगर कार्यालय में देने में आनाकानी कर रहे हैं तो कोर्ट के माध्यम से उनसे प्रमाण लेंगे साथ ही उन्होंने कहा कि अगर सूचना के अधिकार के तहत जानकारी प्रादय नही की जा रही है तो इस विषय को राज्य सूचना आयोग के समक्ष प्रस्तुत करेंगे।















Nishu Sharma
Nishu Sharma

News Editor